छत्तीसगढ़टेक & ऑटो

उदयपुर की सड़कें बोलती है….धुन है.. तन डोले मन डोले…

गुलशन तिवारी उदयपुर !

उदयपुर ! DNnews-लगातार तन दिनों से क्षेत्र में बारिश हो रही है. जिससे अनुमान लगाया जा रहा है कि मानसून छत्तीसगढ़ में दस्तक दे चुकी है. लगातार तीन दिनों से बारिश होने की वजह से उदयपुर की सड़कें गड्ढों में तब्दील हो गई है. पैदल चलना भी मुश्किल हो गया है. सड़कों की स्थिति जर्जर करने मे मुख्य योगदान ठेकेदार के द्वारा लगातार चल रही भारी वाहन का है. पिछले 20 महीने से लगातार भारी वाहनों का आवागमन लगा हुआ है जिससे सड़कें उखड़ कर गड्ढो में तब्दील हो गया है. किसी भी प्रकार का कोई मरम्मत कार्य नहीं किया गया है सड़कों पर 2-2 फ़ीट तक के गड्ढे हो चुके हैं अब पानी भरे हुए हैं जिसे अनुमान नहीं लगाया जा सकता कि कहां पर कितना गड्ढा है व कितना पानी भरा हुआ है किसी भी प्रकार की दुर्घटना हो सकती है।

खैरागढ़ विधायक देवव्रत सिंह के अनुशंसा से उदयपुर के आसपास क्षेत्र में सड़कों का जाल बिछ चुका है ग्राम उदयपुर लगे हुए सभी सड़के या तो बन चुके हैं या बन रहे हैं इसी बीच में उदयपुर के अंदर के 650 मीटर का सड़क ही ऐसा है इसका अभी तक निर्माण होना शुरू नहीं हुआ है विधायक के अनुशंसा से छुईखदान से दनिया तक लगभग 80 करोड रुपए की लागत से सड़क की स्वीकृति हुई है साथ ही उदयपुर से बाजार अतरिया के लिए लगभग 5 करोड बनकर तैयार हो चुकी है विचारपुर से छुईखदान के लिए भी लगभग 9 करोड़ की लागत से सड़क बन कर तैयार हो चुकी है. खैरी से घिरघोली तक भी सड़के भी बनकर तैयार है सिर्फ और सिर्फ उदयपुर के अंदर के 650 मीटर सड़क है जो गड्ढों में तब्दील हुआ है जिसके लिए भी विधायक के प्रयास से लगभग 80 लाख की लागत से सड़क बजट में स्वीकृत हो चुकी है। परंतु कोरोना के चलते अभी तक अटका हुआ है।

15 जून तक सड़क नहीं सुधारने की स्थिति में गांव के अंदर ठेकेदार की गाड़ी चलने के लिए ग्रामीण पहले ही अल्टीमेटम दे चुके हैं. ग्रामीणों के द्वारा ठेकेदार के द्वारा बनाए हुए कैंप में जाकर पहले ही बोला जा चुका है। कि अगर 15 जून तक सड़क की स्थिति नहीं सुधरी तो उदयपुर के अंदर से भारी वाहनों का व रेत गिट्टी व अन्य संसाधन के वाहन का चलना बंद करा देंगे।

“जैसे ही बारिश बंद होगी रोड को उखाड़ कर उसमें जीएसबी गिट्टी व अन्य जो भी सामान लगेगा उसको डालकर अस्थाई रूप से सुधारेंगे।”
चंद्रमणि पाठक डीपीएम पैकेज 12 (ए डी बी)

“स्टीमेट बनाकर ई एन सी भेजा जा चुका है कोरोना के चलते बहुत से कार्य अटके हुए हैं जैसे ही स्वीकृति प्राप्त होगी टेंडर लगाकर जल्द से जल्द सड़क निर्माण कराने की कोशिश करेंगे।”
संजय चौहान एसडीओ लोक निर्माण विभाग उपसंभाग खैरागढ़ छुईखदान

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button
error: Content is protected By PICCOZONE.com !!