छत्तीसगढ़टेक & ऑटो

कुटेली कला मे मनरेगा मे जमकर भर्राशाही, मजदूर घर मे और भरा जा रहा हाजिरी !

बाजार अतरिया ! DNnews-छुईखदान ब्लाक के ग्राम पंचायत कुटेली मे मनरेगा के तहत चल रहे कार्यों मे जमकर भर्राशाही देखने को मिल रहा है. केंद्र सरकार के बहुचर्चित महात्मा गांधी राष्ट्रीय ग्रामीण रोजगार गारंटी योजना मजदूरों को रोजगार देने का एक अच्छा साधन है. जिसके तहत मजदूर गांव से शहर पलायन न हो इसलिए मजदूरों को गांव मे ही काम दिलाकर पलायन रोका जा रहा है. लेकिन यहां तो गांव के कुछ दबंगो के द्वारा फर्जी हाजिरी डलवाकर घर बैठे मजदूरी पा रहा है।

▶️ मजदूर घर मे और हाजिरी मस्टररोल में

ग्रामीणो ने बताया कि लगभग दर्जन भर से ज्यादा लोगो का मनरेगा के तहत चल रहे कार्यो मे कार्यस्थल को देखा ही नही है. और रोजाना हाजिरी भरा जा रहा है. मतलब यहां के सरपंच,सचिव, रोजगार सहायक से लेकर मेंट लोगो के मिलीभगत से यह कार्य सफल किया जा रहा है। रोजगार गारंटी मे प्रशासन को चुना यही लोग लगा रहे है.

▶️ तालाब निर्माण,भुमि सुधार मे जमकर फर्जीवाड़ा

बतादें कि मनरेगा के तहत यहां तालाब निर्माण, भुमिसुधार व कुंआ खोदने का काम चल रहा है. जहां ऐसे मजदूर भी है जो बिना काम के मजदूरी पा रहा है. ग्रामीणो के द्वारा सरपंच,सचिव व पंचायत प्रतिनिधियों को इस मामले को लेकर बात करने पर हम लोगों कोई कुछ नही कर सकने की बात कही जा रही है. इससे यही सिद्ध होता है कि यहां दबंगई के चलते फर्जी हाजिरी भरा जा रहा है.

▶️ माप पंजी व मस्टररोल नही ले जाते कार्यस्थल पर

ग्रामीणो ने यह भी आरोप लगाया कि यहां जवाबदार लोगों के द्वारा मस्टररोल मे गड़बड़ी करने के नियत से मस्टररोल को कार्यस्थल पर नही ले जाते. मजदूरों के हाजिरी को घर व पंचायत पर ही भरा जाता है. जबकि नियम के अनुसार मस्टररोल को कार्यस्थल पर ही ले जाना चाहिए.

▶️ ग्रामीणो ने एसडीएम से की शिकायत

बतादें कि मनरेगा मे जमकर फर्जीवाड़े की शिकायत ग्रामीणो ने छुईखदान एसडीएम लवकेश ध्रुव से की है. शिकायत मे मनरेगा मे हुए फर्जीवाड़े की उचित जांच करने की मांग की गई है. वही ग्रामीणो के मुताबिक यदि फर्जीवाड़े की उचित जांच नही हुआ तो तो कलेक्टर से शिकायत करने की बात कही गई है। शिकायत कर्ता जितेंद्र वर्मा, खेमलाल वर्मा, खेमलाल निर्मलकर, श्यामू वर्मा, कैलाश साहू, गंगाराम वर्मा, श्रीराम वर्मा, नंदलाल साहू, प्रकाश धनकर सहित ग्रामीणों ने उचित जांच कर दोषियों पर कार्यवाही की मांग की है.

▶️ मेंट का हाजिरी पुरा आता है जबकि मजदूरो का कम

ग्रामीणो ने यह भी शिकायत किया है कि यहां काम कर रहे मजदूरो का मजदूरी कट के आता है. जबकि मेट लोगो का पूरा हाजिरी आ रहा है. ऐसा होना समझ से परे है. जब एक ही जगह पर एक ही काम किया जा रहा है तो मजदूर व मेट के मजदूरी अलग-अलग क्यो आ रहा है समझ से परे है.

“ग्रामीणो ने मनरेगा मे फर्जीवाड़े की शिकायत की है. जांच के लिए जनपद पंचायत सीईओ को प्रेषित कर दिया गया है. जल्द ही जांच कर दोषियों पर कार्यवाही की जाएगी।”
लवकेश ध्रुव एसडीएम छुईखदान

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Advertisement
Back to top button