छत्तीसगढ़टेक & ऑटो

कुर्सी की लड़ाई में किसानों की पीड़ा भूल गई सरकार !

राजनांदगांव ! DNnews- जिला भाजपा किसान मोर्चा राजनांदगांव के नेतृत्व में जिले के किसानों ने जिला को सूखा घोषित करने कलेक्टर को ज्ञापन सौंपा. ज्ञापन सौंपने उपस्थित प्रदेश किसान मोर्चा उपाध्यक्ष कोमल सिंह राजपूत ने बताया कि मुख्यमंत्री कुर्सी की लड़ाई में किसानों की सुध लेने वाला कोई नहीं है. मुख्यमंत्री ने पहले तो समय पर खाद बीज उपलब्ध नहीं कराया किसानों ने जैसे-तैसे करके बोनी तो कर दिया. लेकिन मौसम की मार से जहां जिले मे अल्प वर्षा हुई खेत अभी तक सूखे पड़े हैं. धान की फसल पूरी तरह से चौपट हो चुकी है. लेकिन सरकार को इसकी चिंता नहीं है वही ढाई-ढाई साल के चक्कर में कांग्रेस के मुख्यमंत्री की कुर्सी के लिए लड़ाई लड़ रहे हैं.

▶️ जिले को सुखा घोषित करने की मांग

जिला भाजपा किसान मोर्चा के अध्यक्ष हिरेन्द्र साहू ने बताया कि जिले में अल्प वर्षा के कारण धान की फसल पूरी तरह प्रवाहित हो चुकी है. किसानों के खेतों में पानी नहीं है पूरी तरह सूखा पड़ा है इस कारण फसल नष्ट हो चुकी है. सूखे की चिंता से जिले भर के किसान मजदूर पलायन करने को मजबूर हो रहे हैं. और हम देख रहे हैं कि किसान मजदूर बड़ी संख्या में पलायन भी कर रहे हैं. अगर जिले को सूखा घोषित नहीं किया गया तो गांव-गांव में अकाल को लेकर हाहाकार मच जाएगा. उन्होंने जिला किसान मोर्चा के समस्त पदाधिकारियों के साथ राजनांदगांव जिले को अति शीघ्र सूखा घोषित करने की मांग रखते हुए यह भी स्पष्ट किया है अगर जिले को सूखा घोषित नहीं किया गया तो किसान मोर्चा द्वारा प्रत्येक ब्लॉक मुख्यालय में सूखे की मांग को लेकर धरना प्रदर्शन किया जाएगा. ऐसा कहते हुए जिला भाजपा किसान मोर्चा के द्वारा जिला कलेक्टर को ज्ञापन दिया गया. इस दौरान प्रदेश भाजपा किसान मोर्चा के उपाध्यक्ष श्री कोमल सिंह राजपूत, जिला अध्यक्ष किसान मोर्चा हिरेन्द्र साहू, किसान मोर्चा के उपाध्यक्ष गिरवर साहू, दादूराम सोनकर, महामंत्री घासी राम साहू, मंत्री वीरेंद्र साहू, सोशल मीडिया प्रभारी मनीष कुमार सोनी, सह प्रभारी चेतन साहू, दौवा राम चंद्रवंशी, नेतराम चंद्रवंशी, ऋषि राम सिन्हा, कांतिलाल साहू, मंडल उपाध्यक्ष कामता साहू, राजेश्वर ध्रुव, भगवान दास आदि जिला पदाधिकारी उपस्थित रहे.

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Advertisement
Back to top button