छत्तीसगढ़टेक & ऑटो

खैरागढ़ को जिला बनाने मुख्यमंत्री को ज्ञापन सौंपने रायपुर के लिए कारो की निकली काफिला, प्रशासन ने जोरातराई सरहद पर ही रोक दिया प्रदर्शन कारियों को !

▶️ दलगत राजनीति से हटकर सभी संगठन व दलों के लोग थे उपस्थित

खैरागढ़, बाजार अतरिया ! DNnews- खैरागढ़ को जिला बनाने के लिए आज बड़ी संख्या में कार की काफिला निकला. बता दें कि लंबे समय से खैरागढ़ को जिला बनाने के लिए विभिन्न संगठनों के माध्यम से मांग की जा रही है.

जिला निर्माण संघर्ष समिति खैरागढ़ के बैनर तले मुख्यमंत्री के नाम ज्ञापन सौंपने के लिए खैरागढ़ से कार की काफिला निकली थी. जिसको राजनांदगांव जिला के अंतिम छोर जोरातराई में प्रशासन के द्वारा बैरी गेट लगाकर रोक दिया गया. जहां प्रदर्शन कारियों को रायपुर जाना मुश्किल हो गया.

▶️जोरातराई में रोक दिया गया काफिला

बता दें कि जिला निर्माण संघर्ष समिति खैरागढ़ के द्वारा खैरागढ़ इतवारी बाजार होते हुए कार की काफिला निकले जो शनि मंदिर होते हुए बाजार अतरिया से जोरातराई पहुंचे. जहां पहले से ही पुलिस जवान तैनात हो चुके थे. और आने जाने वालों को पहले से ही पूछताछ कर रहे थे. इधर जैसे ही जिला निर्माण संघर्ष समिति की काफिला सरहद पर पहुंची तो बैरिकेडिंग लगाकर पुलिस ने काफिला को रोक दिया.

▶️बारिश ने डाला खलल

बता दें कि जैसे ही कारों की काफिला जोरातराई सरहद पर पहुंची वैसे ही तेज बारिश शुरू हो गई. जिससे प्रदर्शनकारियों को आगे बढ़ने से रोकने के लिए पुलिस को बरसते पानी में ही सड़क पर उतरना पड़ा. पुलिस के जवान प्रदर्शनकारियों को रोकने के लिए बरसते पानी में ही रोका. एवं गाड़ियों की काफिला को बाजू में ही बड़ी मैदान में खड़ी करा कर पूछताछ किया गया. एवं रायपुर जाने के लिए मना किया. गया इधर खैरागढ़ एसडीएम लवकेश ध्रुव का कहना है कि प्रदर्शनकारियों के द्वारा कार रैली के लिए किसी तरह का परमिशन नहीं लिया गया है. यही वजह है कि प्रशासन के तरफ से बैरिकेडिंग लगाकर प्रदर्शनकारियों को राजनांदगांव जिला के सरहद जोरातराई में रोका गया और जयपुर जाने के लिए मना किया गया.

▶️मुख्यमंत्री को ही सौंपेंगे ज्ञापन

जिला निर्माण संघर्ष समिति के कार्यकर्ताओं ने बताया कि जिस उद्देश्य से कारों के काफिले निकली हुई है वह उद्देश्य पूरा तो नहीं हुई. लेकिन प्रदर्शनकारियों ने यह काफिला निकाल कर एक माहौल पैदा कर दिया है कि खैरागढ़ को किसी भी सूरत पर जिला बनाना है. प्रदर्शनकारियों ने यह भी कहा कि हमने मुख्यमंत्री के नाम ज्ञापन सौंपने के लिए आवेदन बनाए हैं. और यह आवेदन हम मुख्यमंत्री को ही उनके समक्ष जाकर सौंपेंगे. और उनको यह भी बताएंगे कि खैरागढ़ जिला बनने के लायक है तो इस हिसाब से खैरागढ़ को जिला बनाया जाए.

▶️डीजे की धुन व देश भक्ति गीत

बता दें कि जिला निर्माण समिति खैरागढ़ के द्वारा डीजे की धुन पर देश भक्ति गीत के साथ ही काफिला की रवानगी की गई और काफिला के पहले सामने छोर पर डीजे की धुन बजती रहे. धीरे धीरे डीजे के साथ कारों की काफिला लंबी लाइनों के साथ निकली जो लगभग 70-80 की संख्या में थी. इधर जोरातराई सरहद पर बड़ी संख्या मे पुलिस प्रशासन के साथ-साथ प्रदर्शनकारियों सहित लगभग चार-पांच सौ की संख्या में लोग उपस्थित हो गए थे. वहीं बाजार अतरिया व जोरातराई के चौक चौराहों पर लोग खड़े होकर काफिला को लोग को देखते रहे.

▶️ प्रदर्शन कारियो ने दी गिरफ्तारी

बतादें कि बरसते पानी मे प्रदर्शन कारियों शांति पूर्ण ढंग से गिरफ्तारी भी दी .जहां गिरफ्तारी दी वहां बड़ी संख्या मे पुलिस जवान तैनात रहे . बहरहाल 65 लोगों की गिरफ्तारी हुई है. वहीं प्रदर्शन कारियों ने अपनी खुद की गिरफ्तारी की मांग कर रहे थे.

इस अवसर पर एएसपी प्रज्ञा मेश्राम, एसडीएम लवकेश ध्रुव, नायब तहसीलदार, एसडीओपी जीसी पति, खैरागढ़ थाना प्रभारी राजेश साहू, छुईखदान थाना प्रभारी रामेश्वर देशमुख, जालबांधा थाना प्रभारी, घुमका थाना प्रभारी, ठेलकाडीह थाना प्रभारी सहित बड़ी संख्या मे पुलिस जवान उपस्थित रहे.

Related Articles

3 Comments

  1. बहुत बढ़िया कवरेज साहू भैया आप पत्रकारों के द्वारा आज जिला निर्माण संघर्ष समिति की मांग भूपेश बघेल जी के कानों तक अवश्य पहुंच गई होगी । आप इसी प्रकार लगातार लगे रहे आपके जज्बे को सलाम साहू भैया ।

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Advertisement
Back to top button