छत्तीसगढ़टेक & ऑटो

छुरिया के प्रभावित दुकानदारों के आंदोलन को सभी दल व व्यपारियो का मिल रहा समर्थन !

छुरिया ! DNnews – नगर पंचायत छुरिया में भाजपा शासनकाल के समय रोड चौड़ीकरण करने चिचोला बंजारी रोड के सभी दुकानदारो के दुकान को छुरिया नगर के एक भाजपा नेता द्वारा षडंयत्र कर प्रशासन पर पूरे नियम और कानून को ताक मे रखकर दुकान और मकान को बड़ी बेरहमी से तुड़वाया गया था. उस समय प्रभावित दुकानदार जब उन्ही नेता के पास मदद के लिए गिड़गिड़ाते तो उनके कान में जूं तक नहीं रेंगता था.

और आज वहीं नेता आंदोलन स्थल पर समर्थन करते नजर आ रहे है जो पूरी तरह छलावा है. लगभग तीन वर्ष से कार्य अधुरा था तब एक भी नेता दुकानदारो के दूर्दसा को झाकने तक नहीं आए अब जब प्रभावितो द्वारा स्वयं निर्णय लेकर पेट के लिए आरपार की लड़ाई का अंतिम फैसला कर धरना आंदोलन में बैठ गए तब वही भाजपा का नेता महज झुठी हमदर्दी व अपनी डूबती हुई राजनीति को संवारने के उद्देश्य से और प्रभावित दुकानदारों के आड़ में अपनी रोटी सेंकने के लिए अपना समर्थन दे रहे है.जिसकी चर्चा धरना स्थल पर भी लोग दबी जुबान से कर रहे थे वही नगर के हर चौक चौराहे मे आज दिन भर होता रहा.

मुख्यमंत्री स्वालम्बन योजना के अंतर्गत निर्माण कार्य लगभग तीन साल बाद भी पूरा नही हुआ है । जिसके चलते आंदोलन जारी है.

▶️विधायक अध्यक्ष के पास चक्कर काट आंदोलन के लिए मजबूर दूकानदार

स्थानीय विधायक के समक्ष प्रभावित दुकानदार कई बार अपनी परेशानियों को उनके पास गए खबर है की स्थानीय विधायक द्वारा एक जवाब सामने आता है मैने शासन से राशि दिला दिया है अब नगर पंचायत का काम है उसे पुरा कराकर प्रभावितो को दुकान आबंटन कराए फिर प्रभावित दुकान वाले नगर पंचायत अध्यक्ष के पास जाते है तो उनका रटा रटाया जवाब होता है पर्याप्त राशि के आभाव मे कार्य अधुरा है नगर के प्रबुद्धजनों का कहना है कि विधायक व नगर की अध्यक्ष के द्वारा संतोषजनक जवाब नहीं मिलने से लोगों में असमंजस की स्थिति है उनके आशवासन के बीच अब तीन वर्ष पूरे हो गए है अब तक निर्माण कार्य पूरा नही हो पाया है । जिसका खामियाजा आम गरीब दुकान दार भुगत रहे थे.

मजबूर होकर दुकानदारो को आन्दोलन का रास्ता अख्तियार करना पड़ा सभी दुकानदार आज से अनिश्चित कालीन हड़ताल पर बैठे हुए है; आम लोगों का कहना है दुकानदारों के समर्थन में नगर के विपक्षी पार्षदों उपाध्यक्ष का समर्थन करना समझ मे आता है मगर जिन्होंने गरीबों का दुकान टुड़वाया कुछ ऐसे नेता का समर्थन करना दुकानदार के साथ छलावा है इन सब बातो को मजबूर प्रभावित दुकानदार समझ रहे है प्रभावित दुकानदार का कहना उन्हें अपना दुकान मिलने से मतलब है आंदोलन मे सभी राजनीतिक गैरराजनीतिक लोगों का स्वागत है.

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Advertisement
Back to top button