छत्तीसगढ़टेक & ऑटोदेश-विदेश

जनपद के दुकानों का जनप्रतिनिधी व सीईओ ने कौड़ी के मोल किया निलामी, जनपद सीईओ के मनमानी से जनप्रतिनिधी व क्षेत्र के लोगों मे आक्रोश !

छुरिया ! DNnews-जनपद पंचायत छुरिया सीईओ अपने मनमानी के चलते लगातार विवादों में हैं। कभी लिफाफा कांड, कभी स्वास्थ्य कर्मचारी से दुर्व्यवहार। खबर है हाल ही में जनपद के मुख्य द्वार मे 6 दुकान है जहाँ वर्ष 2017-18 में सीईओ सोईनबोईर द्वारा तीन दुकान को प्रति दुकान तीन लाख से चार लाख में निलामी कराया था। उसी साईज के पक्के दुकान को वर्षों बाद महंगाई के दौर में जबकि उक्त दुकान का लागत तीन गुना बढ़ गया है, आरोप है सीईओ जनप्रतिनिधी से मिलीभगत कर दो दुकान को कौड़ी के मोल में विपक्ष के लोगों को गुपचुप तरीके से निलामी में उन्हें दे दिया. सवाल उठता है कि सरकार द्वारा गरीबों के लिए बनाए गए दुकान को हैसियत दार लोगों को कम रेट मे बेच दिया जाता है और भाजपा कांग्रेस के जनपद सदस्य खामोशी से कम दर मे दुकान बिकने देते हैं। जिसमे जनपद का लाखों रूपया का राजस्व का नुकसान हो रहा है। नगर मे चर्चा है कि इनकी मौन स्वीकृती से साफ जाहीर होता है इसमे लेनदेन हुआ होगा. जिसमें इनके भागीदारी से इन्कार नही किया जा सकता है। ऐसे ही जनप्रतिनिधी व अधिकारी के वजह से ब्लाक मे चलाए जा रहे रोजगार मुलक कार्य मनरेगा व अन्य निर्माण कार्य में जमकर गड़बड़ी होने का शिकायत है। विभिन्न मदों से कुछ ग्राम पंचायतो ने निर्माण कार्य तो करा लिया मगर भुगतान के लिए मारामारी है। जनपद के जनप्रतिनिधियों के संरक्षण के चलते ऐसे अधिकारियों के हौसले बुलंद है। वहीं सत्ता सरकार की छवि पर क्षेत्र में विपरीत प्रभाव पड़ रहा है।

वर्तमान मे जनपद तहसील व कृषि विभाग में जंगलराज हो गया है। अब ऐसे हालात में जनता के साथ अन्याय हो रहा है। उनका सुनने वाला कोई नही है। ऐसी परिस्थिति का फायदा सीधा भ्रष्ट अधिकारी फर्जीवाड़ा कर उठा रहे हैं। क्षेत्र के ग्रामीणों का आरोप है कि छुरिया जनपद के सीईओ जिनके चलते ब्लॉक मे बाबू राज हो गया है, जनकल्याणकारी कार्य व सरकार के महत्वपूर्ण योजनाओं से कोई लेनादेना नही है। अधिकतर पंचायत सरपंच सचिव का आरोप है बगैर लेनदेन के इस आफिस में एक फाईल भी आगे नही बढ़ता है और न ही चेक काटा जाता है।

“दुकानों के निलामी के बारे मे सीईओ द्वारा मुझे कोई जानकारी नहीं दिया गया है. मामला संज्ञान मे आया है इसकी शिकायत उच्च स्तर पर की जाएगी।”
चुम्मन साहू जनपद सदस्य

“मुझे ये जानकर हैरानी हुआ कि जनपद सीईओ द्वारा स्थानीय विधायक को इस मामले पर बगैर विश्वास मे लिए जो दुकाने गरीब बेरोजगारों के लिए बना है उस हैसियत दार लोगों को कम दाम मे दे दिया गया. इसकी शिकायत कर दुकानों को निरस्त कराया जाएगा।”
रितेश जैन ब्लाक काग्रेस अध्यक्ष

“मै इसके लिए विज्ञापन निकाला था अध्यक्ष व जनपद सदस्यों ने दुकान का निलामी किया है मेरा कोई जवाबदेही नही है।”
सीईओ प्रधान

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Advertisement
Back to top button