छत्तीसगढ़टेक & ऑटो

नगर पंचायत छुरिया मे अवैध प्लाटिंग का पनप रहा है गोरखधंधा !

Akil meman chhuriya.

▶️अवैध रेत मुरूम माफियाओं पर राजस्व व माईनिंग अधिकारी मेहरबान

छुरिया ! DNnews- राजनांदगांव जिला मे पूर्व कलेक्टर के कार्यकाल मे जिला के शासकीय कर्मचारियों को जिस तरह से संरक्षण था उससे शासन प्रशासन का लगातार छवि खराब हुआ है. खबर है कि सबसे ज्यादा शिकायत राजस्व विभाग का रहा है वहीं एसडी शएम डोगरगांव द्वारा कोई भी शिकायत पर कार्यवाही नही करना आम आदमी से सिधे मुंह बात नही करने की आम बात है.

आरोप है कि उनके संरक्षण व जानकारी मे छुरिया नगर मे अवैध प्लाटिंग का गोरखधंधा बड़े पैमाने पर पनप रहा है. ग्रामीण क्षेत्र मे खुलेआम अवैध रेत मुरूम खनन जोरों पर है शासकीय भूमि पर लेनदेन कर कब्जा राजस्व के कर्मचारियो द्वारा कब्जा कराया जा रहा है बताते है कि छुरिया ब्लाक के ग्राम झितराटोला हल्का नं 23 मे पटवारी देवांगन पर ग्रामीणो का आरोप है कि गहिराटोला मे सचिव के घर के आगे वहीं के एक व्यक्ति द्वारा शासकीय भूमि पर अवैध तरीक़े से शौचालय निर्माण किया जा रहा. जिसकी शिकायत तहसीलदार छुरिया को किया गया है उनके द्वारा हल्का नं 23 के पटवारी से प्रतिवेदन मागा गया मगर जानबूझकर प्रतिवेदन भेजा नही जा रहा है. ताकि अतिक्रमण कारी अपना निर्माण कार्य पूर्ण कर ले. यही हाल ग्राम पंचायत बखरूटोला मे है बताते है कि खिलावन साहू द्वारा शासकीय भूमि मे अवैध तरीक़े से मकान का निर्माण किया जा रहा था जिस पर तहसीलदार द्वारा स्टेय देने के बाद पुनः उसी जगह पर दो मंजिल मकान का निर्माण उसी व्यक्ति द्वारा किया जा रहा है. कुल मिलाकर कर राजस्व विभाग के मिलीभगत के चलते सरकारी भूमि पर अवैध कब्जा का कराने का कारोबार चल रहा है.

ताज्जुब की बात यह है कि स्थानीय जनप्रतिनिधी इस सब मामले का जानकारी होने के बाद भी सत्ता सरकार का राजस्व का नुकसान होते देखने के बाद मौन साधे हुए जो क्षेत्र मे चर्चा का विषय है.

▶️तहसील कार्यलय मे बाबू राज

छुरिया तहसील कार्यालय मे पदस्थ बड़े बाबू साहू के रवैये व आंतक से पूरे क्षेत्र के किसान परेशान है उक्त बाबू बड़े बुजुर्गों या आम जनप्रतिनिधी किसी से सिधे मुह बात नही करते उनके ऊपर आरोप है बैगर लेनदेन के कोई काम नही करते कई बार कार्यालय मे उक्त बाबू के कारण विवाद कि स्थिति उत्पन्न हो जाती है. इसकी शिकायत कई बार स्थानीय विधायक से लेकर जिला के उच्च अधिकारियों को ग्रामीणों द्वारा किया जा चूका। है पर अब तक बाबू के ऊपर अधिकारी न ही जनप्रतिनिधी कोई कार्यवाही कराने का जहमत नही उठा पाए है क्षेत्र मे आम चर्चा है. जनप्रतिनिधियों व उच्च अधिकारियों का इन्हें संरक्षण प्राप्त है और मेहरबान है किसी को भी शासन प्रशासन का छवि का ख्याल नही है.

क्षेत्र के लोगो को एसडीएम डोंगरगांव व तहसील कार्यलय मे बाबू राज को जिला के नवनियुक्त कलेक्टर से व्यवस्था सुधारने का उम्मीद है.

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Advertisement
Back to top button