छत्तीसगढ़टेक & ऑटो

नही थम रही उर्वरकों की जमाखोरी एवं कालाबाजारी, जिला प्रशासन सख्त !

▶️75 निजी दुकानदारों पर की गई कार्रवाई

▶️किसानों की वेशभूषा में पहुंचकर टीम ने की जांच

राजनांदगांव ! DNnews- कलेक्टर श्री तारन प्रकाश सिन्हा के निर्देशानुसार जिले में कृषकों को सही दाम पर उर्वरक उपलब्ध कराने के लिए निजी दुकानदारों पर विगत दो माह से कड़ी निगरानी रखते हुए, प्रतिबद्धता के साथ कालाबाजारी करने वालों पर कार्रवाई कर नकेल कसा जा रहा है। जिसका प्रत्यक्ष उदाहरण है कि विगत 2 माह में अलग-अलग टीम बनाकर निजी दुकानों में कर्मचारियों को कृषक बनाकर भेजा जा रहा है। इसके साथ ही अनियमितता एवं अधिक मूल्य पर खाद बेचने की जानकारी प्राप्त होते ही संबंधित दुकानदारों पर कठोर कार्रवाई भी किया जा रहा है। जिले में अब तक अलग-अलग विकासखंडों में सूचना मिलने पर 75 विक्रय परिसरों में दबिश दिया गया। जहां अनियमितता पाये जाने के कारण 8 निजी दुकानदारों पर कलेक्टर द्वारा उर्वरक जप्ती की कार्रवाई की गई। 16 प्रकरणों पर विक्रय पर प्रतिबंध, 8 निजी दुकानदारों के अनुज्ञप्ति को निलंबित करना तथा 43 दुकानदारों को कारण बताओ नोटिस जारी किया गया है.

गौरतलब है कि इस वर्ष उर्वरक की किल्लत से कृषि कार्य बाधित हो रहा है। जिसके लिए कलेक्टर द्वारा राजस्व अधिकारियों की बैठक लेकर भी क्षेत्र मे उर्वरकों के विक्रय पर नजर बनाये रखने और अनियमितता करने वालो पर कठोर कार्रवाई करने के कड़े निर्देश दिये गए हंै। कलेक्टर श्री सिन्हा ने क्षेत्र के किसानों से अपील की है कि अगले हफ्ते जिले में यूरिया का रेक उपलब्ध होने की संभावना है। जिसका वितरण किया जायेगा। निजी विक्रय परिसरों में उर्वरक कालाबाजारी संबंधी शिकायत हेतु क्षेत्रीय कृषि अधिकारी, उर्वरक निरीक्षक एवं जिला प्रशासन को भी उर्वरकों के अधिक मूल्य पर विक्रय होने की सूचना दे सकते हैं.

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Advertisement
Back to top button