छत्तीसगढ़टेक & ऑटो

बाजार हाट में पहुंचकर पैरालीगल वालंटियर द्वारा दी जा रही है कानूनी जानकारी !

DNnews ब्यूरो !

खैरागढ़ ! DNnews- माननीय अध्यक्ष महोदय जिला एवं तालुक विधिक सेवा समिति के निर्देशानुसार और माननीय सचिव महोदय के मार्गदर्शन में 28 जुलाई को इतवारी बाजार खैरागढ़ में लघु शिविर का आयोजन कर पैरालीगल वालंटियर गोलूदास और छवि राज द्वारा उपस्थित लोगों को धारा 376 के बारे में बताया गया कि जब कोई पुरुष किसी महिला के साथ उसकी इच्छा के विरुद्ध, उसकी सहमति के बिना, उसे डरा धमकाकर, दिमागी रूप से कमजोर या पागल महिला को धोखा देकर या उस महिला के शराब या नशीले पदार्थ के कारण होश में नहीं होने पर संभोग करता है, तो उसे बलात्कार कहते हैं. इसमें चाहे किसी भी कारण से संभोग क्रिया पूरी हुई हो अथवा नहीं, कानूनन वो बलात्कार की श्रेणी में ही रखा जायेगा.यदि महिला की उम्र 16 वर्ष से कम है तो उसकी सहमति या बिना सहमति से होने वाला संभोग भी बलात्कार के अपराध में ही गिना जाता है. इस अपराध को अलग-अलग हालात और श्रेणी के हिसाब से भारतीय दंड संहिता में इसे धारा 376, 376 (क), 376 (ख), 376 (ग), 376 (घ) के रूप में विभाजित किया गया है. बालात्कार सजा – 7 वर्ष से कठोर आजीवन कारावास + आर्थिक दण्ड यह एक गैर-जमानती, संज्ञेय अपराध और सत्र न्यायालय के द्वारा विचारणीय है. यह अपराध समझौता करने योग्य नहीं है। साथ ही 11.09.2021 को आयोजित होने वाले नेशनल लोक अदालत की भी जानकारी दी गई।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Advertisement
Back to top button