छत्तीसगढ़टेक & ऑटो

बिजली के लिए सड़क पर उतरे ग्रामीण, चिचोला नेशनल हाईवे घंटो रहा जाम, अधिकारियों से लिखित जवाब मिलने पर हटे आंदोलनकारी !

Suraj lahre chhuriya.

▶️किसानों के हक की लड़ाई से दूर रहे किसान नेता

▶️महिला पुरुष सहित हजारों की संख्या में पहुंचे थे आंदोलनकारी

छुरिया ! DNnews- क्षेत्र में लगातार बिजली कटौती और लो वोल्टेज की समस्या को लेकर दर्जनों गांव के किसान और ग्रामीण बीते 13 अगस्त से छुरिया विद्युत सब स्टेशन में दिन-रात धरना पर बैठे थे। इनकी सात मांगों की समस्याओं का निराकरण नहीं होने पर सोमवार सुबह 10 बजे से छुरिया मोड़ के पास एकत्रित होने लगे और दोपहर एक बजे चक्का जाम को रोकने पुलिस द्वारा लगाए गए बेरीकेट को हटाते हुए मुंबई कोलकाता नेशनल हाईवे 53 में हजारों की संख्या महिला पुरुष युवा सभी ने नेशनल हाईवे सड़क के बीचो बीच दोनों और को जाम कर दिया। करीब पौने 2 घंटे तक सड़क पर चक्का जाम के लिए बैठे थे आंदोलनकारी.

मौके पर पहुंचे एडिशनल कलेक्टर सीसी मारकंडे, अधीक्षण यंत्री सलीम खरे राजनांदगांव और पुलिस के आला अधिकारियों ने आंदोलनकारियों को बहुत समझाने का प्रयास किया गया पर किसानों और ग्रामीणों ने अपनी मांगों को लेकर डटे रहे। और सत्ता सरकार और बिजली विभाग के खिलाफ लगातार नारेबाजी करते रहे। वहीं बिजली विभाग के अधिकारी ने जल्दी ही समस्या का निराकरण करने आज से ही कार्य प्रारंभ करने की किसानों को लिखित में पत्र में दिया गया तब जाकर आंदोलनकारी शांत हुए और हाईवे सड़क जाम में फंसे वाहनों को आवागमन के लिए छोड़ा गया किसानों और ग्रामीणों की चक्का जाम को सत्ता विपक्ष ने भरपूर सहयोग किया लेकिन किसानों के इस हक की लड़ाई में किसान नेता नदारद रहे। जबकि आज उनकी इस जायज मांगों को लेकर किसानों और ग्रामीणों के साथ कंधे से कंधा मिला कर खड़ा होना चाहिए था। ग्रामीणों और किसानों ने अपनी मुख्य मांगों में 1. छुरिया सब स्टेशन में 132 के वी स्थापित किया जाने। 2. लो वोल्टेज की समस्या दूर करने। 3. अघोषित बिजली कटौती को बंद करने। 4. 33 केवी डोंगरगांव से छुरिया सब स्टेशन तत्काल लाने। 5. किसानों द्वारा जमा किया गया डिमांड की राशि से तत्काल ट्रांसफर लगाने। 6. समय-समय पर भार के अनुरूप ट्रांसफर की व्यवस्था करने। और 7. रोज रोज फेस बदलना बंद करने जैसे मुख्य मांगों को लेकर आज चक्का नेशनल हाईवे सड़क पर जाम किया गया था। जिस पर विद्युत विभाग के अधीक्षण यंत्री सलीम खरे ने 33 केवी लाइन जो डोंगरगांव अमलीडीह से 33 केवी सब स्टेशन छुरिया में जुड़ना है। जिसे आज दिनांक 16 अगस्त से प्रारंभ किया जा रहा है। यह कार्य निरंतर चलेगा वहीं इस कार्य में खंभा गढ़ाने तार खींचने में किसानों का फसल वाला खेत पड़ेगा जिसके लिए किसानों से सहयोग की आवश्यकता है। वही किसान पोल गढा़ने में आपत्ति करता है तो सभी कृषकों की सहयोग से दूर किया जाएगा। इस कार्य के लिए अधिकारी ने 65 दिनों में पूरा करने का हर संभव प्रयास किए जाने की लिखित में पत्र दिया गया तब जाकर आंदोलनकारी नेशनल हाईवे सड़क में किये चक्का जाम को छोड़ा गया। इस चक्का जाम में मुख्य रूप से दीपक राजपूत, ललित साहू, छबि यादव, विजय साहू, रविन्द्र वैष्णव, मदन नेताम, एम डी ठाकुर, चंद्रिका डड़सेना, हिरेन्द्र साहू, सुरेंद्र सिंह भाटिया, शेखर भारद्वाज, घासी साहू, श्री मति किरण वैष्णव, श्रीमती ललित चंद्रवंशी, किरण साहू, बेला बाई साहू, मयाराम साहू, खिलेश्वर साहू , संजय सिन्हा , संतोष सिन्हा, कुमार साहू, सलमान खान, नकुल नेताम, कामता साहू , आलोक मिश्रा, श्यामबिहारी ठाकुर, चुरामन साहू , रुखम पांडे, अशोक मरकाम ,मानिक पटेल , पतिराम साहू, सानू यदु, हेमसिग निर्मलकर, होसीलाल साहू, किशोर टेमरे,महेश चंद्रवंशी, नैनसिंग पटेल के साथ हजारों की संख्या में महिलाएं, ग्रामीण, और किसानों की उपस्थिति रही।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Advertisement
Back to top button