छत्तीसगढ़टेक & ऑटो

भाजपा कांग्रेस पार्षदो का खेल सुखा राशन बाटना हो गया फेल !

Akil meman chhuruya.

▶️राशन का टेंडर हुआ है तो बाटना पड़ेगा गरीबों को राशन : राधे ठाकुर

▶️ वार्ड 5 के पार्षद ने राशन गोदाम मे जड़ा ताला

छुरिया ! DNnews- नगर पंचायत छुरिया मे लगातार जनप्रतिनिधियों के कार्यशैली के वजह से विवादों मे घिरता नजर आ रहा है. जिसके चलते नगर मे भाजपा कांग्रेस दोनो दलो के पार्षदो ने जनता के बीच विश्वास खो दिया है. वहीं सत्ता दल के नगर पंचायत के जनप्रतिनिधियों के कार्यशैली से जहाँ एक तरफ पार्टी का छवि खराब हो रहा है वहीं नगर के कांग्रेस पार्षद। वार्ड नं 5 के पार्षद का कहना है अगर राशन नही बटा तो हम लोगों का जनता के बीच एक अच्छा संदेश नही जाएगा. उन्होंने आगे कहा कि ठेकेदार ने जब टेंडर लिया है उसके बाद राशन छुरिया न पं के गोदाम मे लाकर रखा राशन मे गड़बड़ी का शिकायत मिलने परजीस स्थानीय द्वारा क्वालिटी पर नाराजगी दिखाया तब ये आनन फानन मे किसके सहमती से राशन बाटना कैंशल कर रहे है. व ठेकेदार को नियम को ताक मे रखकर समान वापसी के किसने दिया. आदेश ठाकुर ने कहा नगर मे राशन बटेगा ठेकेदार को समान ले जाने नहीं दिया जाएगा राशन तो गरीबों मे बटेगा कुल मिलाकर गरीब जनता षड़यत्र का शिकार हो गए।

▶️विधायक द्वारा सुखा राशन उच्च स्तर का निर्देश पर अमल के बजाए बाटना क्यों कैंशल

नगर के निष्ठावान कांग्रेसजनो का इस पर कहना है विधायक द्वारा क्वालिटी पर सही सवाल खड़ा किया इसके चलते नगर पंचायत के जनप्रतिनिधि को मामले को उलझाने के बजाए सुलझाने का प्रयास करते तो ज्यादा अच्छा होता अब विवादों के चलते नगर मे गरीबों को बटने वाला राशन से वंउत होना पड़ रहा है. वहीं इस मामले पर नगर के नेता जो पार्टी के अन्दर आपस मे बैठकर विवाद पैदा करने के बजाए पार्षद लारोकर का सुझाव मान लेते तो मामला सुर्खियों मे नहीं आता. अगर ये लोग पार्टी के प्रति सच्ची निष्ठा रखते तो सुखा राशन पैकेट मे ठेकेदार द्वारा खुला आटा का मामला ही था जिस पर विधायक ने नारजगी जताया था. बताते है छुरिया नगर पंचायत के जनप्रतिनिधि व वार्ड -1- पार्षद सुनील लारोकर का सुझाव स्थानीय नेता मान लेते तो आज फजीहत नही होता खबर है उन्होंने कहा था सुखा राशन पैकेट मे खुला आटा पर ही आपत्ति है हम उसे बदल कर वार्ड के लोगो को राशन पैकेट बाट देते है जो लोग सुबह से राशन लेने एक जगह एकत्रित हुए है वह भी सतुंष्ट हो जाऐगे मगर इस सुझाव को एक तथाकथित नेता के अड़ंगेबाजी के चलते दरकिनार कर दिया गया नगर के वरिष्ट जनो का कहना है अगर वार्ड नं -1- पार्षद का सुझाव मान लिया जाता शायद यह मामला सुलझ जाता व राशन नही बटने से नगर मे कांग्रेस के खिलाफ विपक्ष को बैठे बिठाए एक मुद्दा मिल गया जो सुझाव मान लेते तो नही मिलता और ठेकेदार द्वारा राशन स्पलाई से इन्कार भी नहीं किया जाता. वर्तमान मे इस विवाद के चलते उक्त ठेकेदार का आमनत राशि राजसात होने से भी अब कोई नही रोक सकता इधर कांग्रेस पार्टी जो नगर पंचायत मे इनकी बाडी है उनका लोगों के बीच किरकिरी व जवाब देने के लायक नही रहे।

वार्ड नं 5 पार्षद राधे ठाकुर
नगर मे राशन के लिए टेंडर पास हुआ. निर्धारित लिस्ट के हिसाब से समान देना था जिसमे गड़बड़ी हुआ है ठेकेदार और गड़बड़ी उजागर न हो करके गुपचुप तरीके से उठा रहा था ।

30 मई को प्रकाशित खबर

29 मई को प्रकाशित खबर

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Advertisement
Back to top button