अपराधकोरोनावायरसछत्तीसगढ़टेक & ऑटो

भीमपुरी पंचायत के सचिव द्वारा सरपंच का फर्जी हस्ताक्षर कर पैसा गबन करने वाले आरोपी चढ़ा पुलिस के हत्थे !

▶️ मामला ग्राम पंचायत भीमपुरी का

खैरागढ़ बाजार अतरिया ! DNnews-बाजार अतरिया समीपस्थ ग्राम पंचायत भीमपुरी में सरपंच के फर्जी हस्ताक्षर कर अलग-अलग बैंकों से अलग-अलग मद की राशि का आहरण कर अलग-अलग लोगों के खाते में राशि ट्रांसफर कर गबन किया गया है. जिसकी शिकायत भीमपुरी के सरपंच जीवन साहू के द्वारा किया गया था.

▶️ आरोपी के खिलाफ छुईखदान थाना में दर्ज कराया गया था एफआईआर

वही मामले को लेकर जनपद पंचायत खैरागढ़ के द्वारा टीम गठित कर कार्यवाही कर जांच में जुट गई थी कार्यवाही के दौरान बार-बार आरोपी जीवन बंजारे को पेश होने का नोटिस दिया गया बावजूद वह नहीं आया. जिसके उपरांत आरोपी के खिलाफ छुईखदान थाना में एफआईआर दर्ज कराया गया था. जिसके तहत पुलिस महानिरीक्षक श्री विवेकानंद सिन्हा दुर्ग रेंज, श्रीमान पुलिस अधीक्षक महोदय जिला राजनांदगांव डी श्रवण, अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक श्रीमती प्रज्ञा मिश्रा, अनुविभागीय अधिकारी खैरागढ़ जीसी पति के निर्देशन पर थाना छुई खदान के अंतर्गत आने वाले अपराधिक प्रकरण 78/2021 धारा 420 भादवी की फरार आरोपी को गिरफ्तार करने रवाना हुआ.

▶️ कई महीनों से फरार था आरोपी

ग्राम पंचायत भीमपुरी के सरपंच जीवन लाल साहू के पास किसी अज्ञात व्यक्ति द्वारा सचिव जीवन बंजारे फर्जी हस्ताक्षर खाता से पैसा निकाल रहा था सूचना मिलने पर सरपंच द्वारा शासकीय राशि को आहरण किए रकम के संबंध में संज्ञान लिया और जीवन बंजारे पिता एक्कम बंजारे उम्र 32 साल निवासी जालबांधा चौकी जालबांधा थाना खैरागढ़ के विरुद्ध सरपंच द्वारा मुख्य कार्यपालन अधिकारी जनपद पंचायत खैरागढ़ को शिकायत पेश किया गया. जिस पर मुख्य कार्यपालन अधिकारी जनपद पंचायत द्वारा शिकायत की जांच हेतु चार सदस्य टीम गठित किया गया. जिसके द्वारा जांच पर सचिव द्वारा तीन लाख चालीस हजार चार सौ बीस रूपए का फर्जी हस्ताक्षर व प्रस्ताव कार्रवाई की फर्जी नकल चेक एवं विड्राल के साथ लगाकर धोखाधड़ी किए जांच टीम के द्वारा आरोपी जीवन बंजारे का उपस्थित होने हिदायत दिया था जिसके बाद भी आरोपी उपस्थित नहीं हुआ जिस पर चित्रदत्त दुबे वरिष्ठ करारोपण अधिकारी जनपद पंचायत खैरागढ़ द्वारा छुईखदान में आरोपी जीवन बंजारे के विरुद्ध अपराधिक प्रकरण 78/2021 धारा 420 भादवि पंजीबद्ध कर विवेचना में लिया गया जो कि 31 मई को आरोपी के निवास जालबांधा पर घेराबंदी कर आरोपी को पकड़ा गया तथा आरोपी के निशानदेही पर ग्राम पंचायत के आईडीबीआई बैंक खैरागढ़,एचडीएफसी बैंक खैरागढ़, जिला सहकारी बैंक खैरागढ़, छत्तीसगढ़ राज्य ग्रामीण बैंक एवम पंजाब नेशनल बैंक खैरागढ़ का पासबुक एवं चेक को जब्त किया गया आरोपी द्वारा दस्तावेज फर्जी हस्ताक्षर से रकम निकालना पाए जाने से प्रकरण में धारा 467 468 471भादवि जोड़ी गई है. आरोपी को दिनांक 31 मई को गिरफ्तार कर न्यायालय में पेश किया गया जहां से न्यायिक अभिरक्षा में उपजेल सलोनी भेजा गया है.

इस विवेचना कार्यवाही में थाना प्रभारी निरीक्षक रामेश्वर देशमुख, नरेंद्र आशुतोष सिंह, शंकर मरकाम संयोगिता कुमरे एवम भूषण चंद्रवंशी शामिल रहे।

▶️क्षेत्र के पंचायतों में हो रहे ऐसी घटना का यह पहला मामला जिस पर हुई कार्यवाही।

बाजार अतरिया से लगे आसपास के ग्राम पंचायतों में लगातार सरपंच एवं सचिव के खिलाफ ग्रामीणो सहित पंचों द्वारा सरपंच सचिव के खिलाफ लगातार पंचायत के राशि का दुरुपयोग करना फर्जी तरीके से राशि का आहरण करना एवं सरकारी मद का दुरुपयोग करने का मामला लगातार सामने आ रहा है. बावजूद पंचायत के खिलाफ कार्यवाही को लेकर यह एक ऐसा पहला मामला है जिस पर कार्यवाही करते हुए जनपद पंचायत के अधिकारियों द्वारा संबंधित थाना में एफआईआर दर्ज करा कर आरोपी सचिव को जेल भेजा गया है. जिससे शिकायत कर्ताओं को उम्मीद की किरण जगी है. वही लगातार आसपास के ग्राम पंचायतों में शासन के राशि का दुरुपयोग करना बिना प्रस्ताव कर राशि का निकालना यह समझ से परे है ऐसी तमाम पंचायतों में ऐसी घटनाएं निकल कर सामने आ रही है जिस पर कठोर से कठोर कार्यवाही का किया जाना अति आवश्यक है।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Advertisement
Back to top button