छत्तीसगढ़टेक & ऑटोशिक्षा

राजाबार के जर्जर भवन मे लग रहा स्कूल, कभी भी घट सकती है घटना, विभाग नही दे रहा ध्यान !

Dileep shukla salhewara.

साल्हेवारा ! DNnews – ग्राम पंचायत सरोधी के आश्रित ग्राम राजाबर प्राथमिक शाला भवन जर्जर हो चुका है. यह भवन 1998 में बनाया गया था. जो काफी पुराना भी हो चुका है. निम्न स्तरीय घटिया निर्माण होने की वजह से भवन ने दम तोड़ दिया है. जिसकी मरम्मत 3 बार हो चुकी है लेकिन छत कमजोर होने के कारण पुरे कमरे में पानी का रिसाव से बच्चों के बैठने लायक कही स्थान नहीं है. भवन इतना जर्जर हो चुका है कभी भी गिर सकता है. अनहोनी को टाला नही जा सकता जिससे बच्चों के भविष्य अंधकारमय है. शिक्षक दिनेश खुसरो ने बताया कि पहली से लेकर पांचवी तक 68 बच्चे है जगह नही होने के कारण अधिकांश बच्चे स्कुल आने से कतराते है. जर्जर भवन की मांग वर्षो से की जा रही है. पर आज तक शासन प्रशासन ध्यान नही देते.अगर अतिशीघ्र नया भवन नहीं बनाया गया तो कभी भी भवन गिर सकता है. जिससे बच्चों एवं शिक्षकों को खामियाजा भुगतना पड़ सकता है.

ग्राम पंचायत सरोधी साल्हेवारा के सचिव रघुनंदन शहरे ने बताया कि स्कूल की मांग पुर्व में ग्राम राजाबर के ग्राम वासियों द्वारा पुर्व मुख्यमंत्री डां. रमन सिंह से सहसपुर में आये थे तब से आवेदन दिया था. जनपद पंचायत के पुर्व सीईओ साहब से भी मांग किया था. लेकिन आज पर्यन्त तक जर्जर भवन का नया निर्माण नहीं किया गया.

ग्राम राजाबर के ग्राम प्रमुख उपसरपंच बिजेलाल चौधर रामाधार ग्राम पटेल जगदीश शहरे प्रतापी पटेल रामसिंग पटेल सामसिंग पटेल हिस्सादार पटेल आदि ग्राम वासियों में रोष ब्यापत है अतिशीघ्र नया प्राथमिक शाला भवन का निर्माण कराया जाय बच्चों के भविष्य से खिलवाड़ न करें.

संबधित शिक्षा विभाग कुम्भकरणीय नींद में सोया हुआ है कभी निरीक्षण करने भी नहीं आते. ग्रामवासियों की मांग है जिम्मेदार अधिकारी आकर जर्जर भवन प्राथमिक शाला राजाबर का निरीक्षण कर उचित कार्यवाही करें.

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Advertisement
Back to top button