छत्तीसगढ़टेक & ऑटो

सहायक शिक्षक फेडरेशन दुर्ग द्वारा शिक्षक सम्मान समारोह का किया आयोजन !

Ravi sen durg.

ननकट्ठी,दुर्ग ! DNnews- छत्तीसगढ़ सहायक शिक्षक फेडरेशन ब्लाक व जिला इकाई दुर्ग के द्वारा हिंदी भाषा दिवस सह शिक्षक सम्मान समारोह के तृतीय वर्ष के जिला स्तरीय आयोजन को भव्य रूप से दुर्ग बायपास टोल प्लाजा के पास स्थित मनोज राजपूत ले आऊट में भव्य एवं व्यापक रूप से आयोजित किया गया. इस आयोजन में उपस्थित होने वाले दुर्ग जिले के सभी विकासखण्ड दुर्ग,पाटन,धमधा के सहायक शिक्षकों का सम्मान प्रशस्ति पत्र व उपहार प्रदान कर शिक्षक दिवस एवं हिन्दी दिवस के संयुक्त आयोजन में 19 सितंबर रविवार को किया गया।इस कार्यक्रम में लगभग 1200 शिक्षकों का सम्मान किया गया.शिक्षक कार्यक्रम में सपरिवार उपस्थित थे।एवं उपस्थित शिक्षकों के लिए दोपहर के भोजन की व्यवस्था भी की गई थी।एवं शिक्षकों के द्वारा ही मंच संचालन के साथ सांस्कृतिक कार्यक्रमों की प्रस्तुतियां भी थी।जिसमें शिक्षकों ने लोकनृत्य, लोकगीत,भाषण एवं कविताएं प्रस्तुत की।जिसका अन्य शिक्षकों ने लुत्फ उठाया।साथ ही इस कार्यक्रम में छत्तीसगढ़ सहायक शिक्षक फेडरेशन के प्रांतीय पदाधिकारियों के साथ 29 जिलाध्यक्ष, 146 ब्लाक अध्यक्ष भी शामिल हुए।इस कार्यक्रम का एकमात्र उद्देश्य यही था कि अनेकों शिक्षक अपने अपने क्षेत्र में सराहनीय कार्य कर रहे हैं।जिनका सम्मान एक ही मंच में करके प्रोत्साहित किया जा सके।जिससे कि वे अपने कार्यक्षेत्र में दुगने उत्साह व ऊर्जा के साथ समाज का नवसृजन कर सके।इस कार्यक्रम के लिए फेडेरेशन की टीम ने दुर्ग जिले की लगभग 585 शालाओं के शिक्षकों को आमंत्रित कर एक ऐतिहासिक आयोजन को धरातल पर परिलक्षित किया.

कार्यक्रम में मुख्य अतिथि के रूप में पद्मश्री विश्व विख्यात मूर्तिकार श्री जेएम नेल्सन जी, जी,अहिवारा पूर्व नगरपालिका अध्यक्ष श्रीमति सीमा बघेल,सेवानिवृत्त शिक्षक एवं समाजसेवी श्री हेमंत उपाध्याय जी,सेवानिवृत्त शिक्षक श्री माधव सिंह जी एवं मनोज राजपूत जी को आमंत्रित किया गया था।संगठन की ओर अतिथियों को पुष्प गुच्छ भेंट कर स्वागत किया गया एवं प्रतीक चिन्ह से सम्मानित किया गया।सांस्कृतिक आयोजन में अपनी प्रस्तुति देने वाले शिक्षकों को भी प्रतीक चिन्ह देकर सम्मानित किया गया। आयोजन में अतिथियों ने अपने उद्बोधन में अपने जीवन के संघर्ष की व सफलता की कहानी शिक्षकों को बताई।एवं शिक्षकों को प्रेरित किया कि जैसे उन्होंने सीमित संसाधनों में अप्रत्याशित सफलता अर्जित की,उसी प्रकार शासकीय शालाओं के शिक्षकों में भी वही ऊर्जा व उत्साह है कि वे सीमित संसाधनों में समाज को एक नई दिशा प्रदान कर नये भारत के निर्माण में अपनी महती भूमिका अदा कर सकते हैं।इस सफल आयोजन में छत्तीसगढ़ सहायक शिक्षक फेडरेशन ब्लाक इकाई दुर्ग की कार्यकारिणी के सदस्यों का विशेष योगदान रहा।एवं संगठन की ओर से पूरे प्रदेश की कार्यकारिणी, सभी ब्लॉक अध्यक्ष व जिला अध्यक्ष की उपस्थिति रही.

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Advertisement
Back to top button