छत्तीसगढ़टेक & ऑटो

ADEO व संकुल अध्यक्ष पर मनमानी का आरोप, दोनो के प्रताड़ना से परेशान है बिहान समूह के वर्कर !

अंबागढ़ चौकी ! DNnews-राष्ट्रीय ग्रामीण आजीविका मिशन के तहत महिलाओं को शसक्त बनाने के उद्देश्य से गांव-गांव मे महिला समूह का गठन किया गया है. इन समूहों को लोन के माध्यम से व छोटे-छोटे उद्योग के माध्यम से प्रशासन आगे ले जाने मे कोई कसर नही छोड़ रहे है.

इधर जानपद पंचायत अंबागढ़ चौकी मे पदस्थ ADEO अपनी पद की गरिमा को भुलते हुए इन समूह के महिलाओं का मनोबल गिराने मे लगा हुआ है. बतादें कि अंबागढ़ चौकी के अंतर्गत आतरगांव संकुल मे कुल 15 पंचायत मे 29 गांव आते है. जहां 381 महिला समूह सक्रिय रूप से काम कर रही है. आतरगांव संकुल के अध्यक्ष रीना मेश्राम व जनपद ADEO सुखीराम चंद्रवंशी के दबंगई से कैडर सहित निचले स्तर के कार्यकर्ता काफी परेशान है.

बिते दिनो इन महिलाओं ने राजनांदगांव कलेक्टर व जिला पंचायत सीईओ से मुलाकात कर दोनो के खिलाफ शिकायत की है. इनका शिकायत है कि ADEO व संकुल अध्यक्ष मनमाने ढंग से कार्य के लिए प्रेशर करते है.और आरबीके, पशु सखी, कृषि सखी, सक्रिय महिला, एफएलसीआरपी व लेखापाल की मानदेय रूकवाने की बार-बार धमकी देते है. उक्त कार्यकर्ताओं के साथ हमेशा दुर्व्यवहार करते है. पीआरपी खोमेश्वरी साहू ने बताया कि इनके खिलाफ झुठी दस्तावेज मे हस्ताक्षर कराया जाता है. जो कि पुरी तरह से निंदनीय है. किसी कारणवश कभी कोई कार्यकर्ता मिटिंग आदि मे नही पहुंच पाते तो उनको धमकी भरे लहजे मे डराया जाता है कि तुम्हें काम से निकाल दिया जाएगा.

अब यहां सवाल यह उठता है कि आखिर इन ADEO व संकुल अध्यक्ष को आखिर इतना पावर कौन दे रखा है. महिलाओं को सही तरीक़े से कांऊसलिंग कर उनका मनोबल बढ़ाने के बजाए. इन महिलाओं को निचा दिखाने का काम कर रहे है. जब महिलाओं को डरा धमकाकर मनमानी तरीक़े से काम लिया जाता हो तो समझ लिजिए अफसर शाही हावी हो रहा है. पिछले कई महिनो से इन दोनो के प्रताड़ना से कार्यकर्ताओं का जीना हराम हो गया है. ये सभी महिलाएं अपनी काम ठीक से नही कर पा रही है. वहीं इनके दबाव व दुर्व्यवहार से महिलाएं डरी व सहमी हुई है. ADEO व संकुल अध्यक्ष के द्वारा फर्जी दस्तावेज तैयार कर झूठा हस्ताक्षर कर फंसाने का काम किया जा रहा है.

शिकायत करने वालों मे पीआरपी खोमेश्वरी साहू, हेमलता साहू, मधू साहू,लक्ष्मी साहू, पुष्पा ,शालिनी,सुरेखा, संगीता ठाकुर, कमलेश्वरी व चंद्रिका सहित महिलाओं ने दोनो के खिलाफ कार्रवाई की मांग की है।

“इस संबंध मे पक्ष जानने ADEO सुखीराम को फोन किया लेकिन उन्होंने एक बार फोन उठाकर बाद मे लगाता हू करके काट दिया. व दूसरी बार फोन लगाने पर फोन रिसीव नही किया. वही व्हाट्सएप मे भी जवाब नही दिया.”

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button
error: Content is protected By PICCOZONE.com !!