Home / Uncategorized / प्रत्येक मनुष्य को अपने जीवन में अच्छे कर्म करते रहना चाहिए : गीता घासी साहू

प्रत्येक मनुष्य को अपने जीवन में अच्छे कर्म करते रहना चाहिए : गीता घासी साहू :

Wait
जिला पंचायत अध्यक्ष गीता घासी साहू ने पाटेकोहरा मे व्यासपीठ से लिया आशीर्वाद, सुख समृद्धि की कामना

राजनांदगांव ! DNnews-ग्राम पाटेकोहरा (चिचोला) एवं बम्हनी (शिव महापुराण कथा)  समस्त ग्रामवासियों के तत्वाधान में श्रीमद् भागवत महापुराण कथा ज्ञान यज्ञ सप्ताह का आयोजन किया जा रहा है। मुख्य कथावाचक पंडित सुखदेव जी पुरोहित महाराज पंडित व्यास नारायण तिवारी जी के मुखारविंद से हो रहा है। इस अवसर पर राजनांदगांव जिला पंचायत अध्यक्ष श्रीमती गीता घासी साहू ग्राम पाटेकोहरा एवं बम्हनी  पहुंचकर कथा व्यास पीठ से आशीर्वाद लिया एवं कथा श्रवण किया। अध्यक्ष श्री मती गीता घासी साहू ने सम्बोधित करते हुए कहा कि ऐसे आयोजन होने से गांव में परस्पर प्रेम, भाई चारा, एकता, आपसी सोहद्र स्थापित होता है, व्यासपीठ कथा से हमें जीवन जीने की कला सीखने को मिलती है।मनुष्य का जीवन संघर्षों से भरा पड़ा है संघर्ष करते हुए कर्म करने से मनुष्य अपने मनोवांछित फल को प्राप्त करता है यही सीख हमें भगवत महापुराण कथा से मिलती है की मनुष्य कर्म करें पर फल की इच्छा ना करें इंसान को स्वत: ही कर्म के अनुसार उसे फल प्राप्त हो ही जाता है इसलिए प्रत्येक मनुष्य को अपने जीवन में अच्छे कर्म करते रहना चाहिए और बुराइयों से अपने जीवन को बचाना चाहिए और भगवान की भक्ति करें और सदमार्ग पर चलें।

इस अवसर पर पार्वती साहू जनपद सदस्य छुरिया, पंडित एल पी मिश्रा,  घासी राम साहू महामंत्री जिला भाजपा किसान मोर्चा, राजेश्वर धुर्वे महामंत्री अनुसूचित जनजाति मोर्चा ,मनोज साहू महामंत्री युवा मोर्चा, राजकुमार मिश्रा नारद सिंह सूर्यवंशी पूर्व सरपंच ,फगवा राम अरकरा अध्यक्ष ,काशीराम चंद्रवंशी उपाध्यक्ष ,सोतन दास साहू (परीक्षित महाराज) ,रमेश सिन्हा, राजेश ठाकुर ,संतोष सिन्हा, ब्रिज लाल साहू ,राजकुमार सिंहा, नारायण सिन्हा ग्राम प्रमुख सरपंच पंच गण एवं ग्राम वासी बड़ी संख्या में उपस्थित रहे।
खबरें और भी हैं...
Recent News
Advertise with usContact UsPrivacy PolicyCookie PolicySite MapTerms & Conditions and Grievance Redressal Policy

Copyright © 2022-23 DNnews., All Rights Reserved

This website follows the DNPA Code of Ethics.