Recent News
भारी मात्रा में देशी व अंग्रेजी शराब बरामद : खेत में छिपाकर रखा था190 पौवा शराब
KCG सगाई में जा रहे स्कार्पियो अनियंत्रित होकर तीन बार पलटी : स्कार्पियो में सवार कुम्ही सरपंच की दर्दनाक मौत, जबकि अन्य घायल
खैरागढ़ कांग्रेस नेता के छोटे भाई ने किया भाजपा प्रवेश : इधर कई कांग्रेस नेता सांप भी मर जाये और लाठी भी न टूटे कहावत में चल रहे है.
40 किलो गांजा के साथ उड़ीसा और सूरत के आरोपियों को राजनांदगॉव सिटी कोतवाली पुलिस ने धर दबोचा : गांजा सप्लाई करने बस का कर रहे थे इंतजार
सड़क हादसे में मृत एलबी व्याख्याता के परिजन को मिलेगी 15 लाख की आर्थिक सहायता राशि : चुनाव प्रशिक्षण से घर लौटने के दौरान हुए थे हादसे का शिकार
होम वोटिंग के लिए 9 मतदान दल हुए रवाना, कलेक्टर ने दिखायी हरि झंडी : वरिष्ठ नागरिक व दिव्यांगजनों को मिल रही सुविधा
दिव्यांगता भी नहीं डिगा सका इरादा, पति-पत्नि ने बैलेट पेपर से किया वोट : दिव्यांग मतदाता संतोषी,मिलाप बोले-लोकतंत्र के महापर्व में शामिल होकर गर्व की अनुभूति हुई
समोसे को लेकर दो नाबालिग बालको में जमकर विवाद : एक ने दूसरे को ट्रेन धकेल दिया, मौत , आरोपी गिरफ्तार
रामनवमी के अवसर पर : खैरागढ़ वार्या सिटी में विराजे प्रभु श्री राम
नेता जब इतना ही ईमानदार है तो चुनाव में शराब और रूपये बाँटने की क्या जरुरत ? : राजनितिक पार्टिया असल मुद्दे छोड़ पार्टी मजबूती पर ज्यादा ध्यान देते है.



Hindi / दैनिक न्यूज / संगी भेंट(Reunion) बचपन की यादों का खजाना जवाहर नवोदय विद्यालय के भतपूर्व छात्र जब 20 साल बाद मिले, फिर क्या .....

संगी भेंट(Reunion) बचपन की यादों का खजाना : जवाहर नवोदय विद्यालय के भतपूर्व छात्र जब 20 साल बाद मिले, फिर क्या .....

Views • 228 / 198

राजनांदगॉव ! DNnews -जवाहर नवोदय विद्यालय डोंगरगढ़ के भूतपूर्व छात्र बैच 9 वी (1995-2002) ने किये संगी भेंट। जहाँ सभी लोगों ने एक दूसरे के साथ साझा किए बचपन की यादें। कार्यक्रम राजनांदगॉव स्थित The bliss international club and restaurant में रखा गया था. 


कार्यक्रम के दौरान सभी लोगों ने अपना-अपना परिचय रखे। और विभिन्न मुद्दों पर भी विचार विमर्श किये, मसलन बैच को कैसे सुदृढ किया जाए और हमारा बैच समाज के लिए क्या कर सकता है, इस बात पर भी मंथन हुआ।

ADS

संजीवनी कोष: आपात स्थितियों में सहारा


एक संजीवनी कोष तैयार किये जाने पर उपस्थित लोगों के बीच सहमति बनी, जिसे अमली जामा पहनाना शेष है। यह एक ऐसा कोष है जिसे सदस्यों के बीच आपात स्थिति आने पर उपयोग किया जा सके।


ये रहे उपस्थित 


टिनम,शशि,विद्या,हितेश्वरी,मनीषा,ऋतु,वर्षा,रुतन,ममता,प्रवीण,यशवंत,राजकुमार,भीषम,महेंद्र,गिरीश,शरद,चंद्रकांत,रमेश,योगेश्वर,विक्रम उपस्थित रहे. 


सम्पादक की कलम से ......... 


युगो से तरसी धरती से बारिश का सबब मत पूछो,

एक ठहरे हुए नाविक से दरिया के सबक मत पूछो,

हम तो मायूस हो चुके थे रेगिस्तान के गहरे साये से,

मिला है वो तो आँखों के बरसने का अदब मत पूछो




Dinesh Sahu

Cheif-In-Editor

खबरें और भी हैं...

Copyright © 2022-23 DNNEWS Corp ltd., All Rights Reserved

This website follows the DNPA Code of Ethics.