Home / Uncategorized / खबर लगातार : कहीं चावल का घोटाला तो नही : देना था तीन माह का राशन, और दे दिया एक ही महिने का, आखिर बाकी चावल गया कहां

खबर लगातार : कहीं चावल का घोटाला तो नही : देना था तीन माह का राशन, और दे दिया एक ही महिने का, आखिर बाकी चावल गया कहां : कहीं राशन दुकान के संचालक ऊपर अधिकारियों का संरक्षण तो नही

Wait
राशन दुकान के स्टाक मिलान कर कार्यवाही करने की उठ रही मांग

खैरागढ़ ! DNnews- केसीजी जिले के खैरागढ़ ब्लाक के भीमपुरी के राशन दुकान का मामला दिनोंदिन चर्चा का विषय बनता जा रहा है. 2-3 माह तक राशन नहीं देने के बाद DNnews द्वारा खबर प्रकाशित किया गया. जिसके बाद तत्काल अगले दिन सेवा सहकारी समिति के समिति प्रबंधक निहाली राम वर्मा को भेजकर उनके समक्ष राशन वितरण कराया गया. लेकिन राशन वितरण सितंबर माह का ही वितरण कराया जा रहा है उसके पूर्व नवंबर एवं सितंबर अक्टूबर-नवंबर का अतिरिक्त चावल वितरण नहीं किया गया है. वही नवंबर एवं जनवरी का राशन कब दिया जाएगा यह सवालों के घेरे में है. संबंधित विभाग के अधिकारी कार्रवाई करने के बजाए मामला को समेटने में जुटे हुए हैं। राशन दुकान के संचालक के द्वारा इतनी लगातार लापरवाही बढ़ती जा रही है उसके बाद भी उनके ऊपर कार्यवाही नहीं किया जाना कहीं ना कहीं जिले के खाद्य विभाग के अधिकारियों के ऊपर अनेकों सवाल खड़ा हो रहे हैं और गांव में तरह-तरह की चर्चाएं हो रही है ।

भीमपुरी के राशन दुकान का स्टॉक मिलान करने पर होगी बड़ा खुलासा

वही गांव के हितग्राहियों का कहना है कि छत्तीसगढ़ मे पूरे चावल स्टाक मिलान करने का कार्य पूर्ण हो गया है लेकिन अभी तक भीमपुरी के राशन दुकान का स्टाफ मिलान पूर्ण हुआ है कि नहीं किसी को कोई जानकारी नहीं है. वही जानकार कहते हैं कि अगर भीमपुरी के राशन दुकान का स्टाक मिलान किया जाए तो चावल घोटाला में बड़ी गड़बड़ी देखने को मिल सकती है. जिस पर राशन दुकान के संचालक के ऊपर कड़ी से कड़ी कार्रवाई की जा सकती है लेकिन संबंधित विभाग के अधिकारी उन्हें संरक्षण देने में तुले हुए हैं अब गांव के हितग्राही भीमपुरी के राशन दुकान से स्टाक मिलान कर जांच करने कलेक्टर को आवेदन देने की बात कही जा रही है।


बाकी महीनों की बची राशन कब मिलेगी बड़ा सवाल

भीमपुरी के राशन दुकान में लगातार 2 से 3 महीने तक समय पर राशन नहीं देने का मामला सामने आया है खबर प्रकाशन के बाद अगले दिन ही राशन वितरण करने पहुंच गए लेकिन वहां सिर्फ दिसंबर माह का ही राशन दिया जा रहा है। अभी वर्तमान में जनवरी माह में भी बीतने को है. वही नवंबर का भी अधिकांश हितग्राहियों का राशन बचा हुआ है एवं अतिरिक्त चावल जो हितग्राहियों को मिलना है वह भी अनेकों हितग्राहियों को पूरी तरह नहीं मिला है वही लगातार अखबारों के माध्यम से खबर प्रकाशित हो रहे हैं ऐसे में संबंधित विभाग के अधिकारी अनजान कैसे हैं यह समझ से परे है।
खबरें और भी हैं...
Recent News
Advertise with usContact UsPrivacy PolicyCookie PolicySite MapTerms & Conditions and Grievance Redressal Policy

Copyright © 2022-23 DNnews., All Rights Reserved

This website follows the DNPA Code of Ethics.