Recent News
भारी मात्रा में देशी व अंग्रेजी शराब बरामद : खेत में छिपाकर रखा था190 पौवा शराब
KCG सगाई में जा रहे स्कार्पियो अनियंत्रित होकर तीन बार पलटी : स्कार्पियो में सवार कुम्ही सरपंच की दर्दनाक मौत, जबकि अन्य घायल
खैरागढ़ कांग्रेस नेता के छोटे भाई ने किया भाजपा प्रवेश : इधर कई कांग्रेस नेता सांप भी मर जाये और लाठी भी न टूटे कहावत में चल रहे है.
40 किलो गांजा के साथ उड़ीसा और सूरत के आरोपियों को राजनांदगॉव सिटी कोतवाली पुलिस ने धर दबोचा : गांजा सप्लाई करने बस का कर रहे थे इंतजार
सड़क हादसे में मृत एलबी व्याख्याता के परिजन को मिलेगी 15 लाख की आर्थिक सहायता राशि : चुनाव प्रशिक्षण से घर लौटने के दौरान हुए थे हादसे का शिकार
होम वोटिंग के लिए 9 मतदान दल हुए रवाना, कलेक्टर ने दिखायी हरि झंडी : वरिष्ठ नागरिक व दिव्यांगजनों को मिल रही सुविधा
दिव्यांगता भी नहीं डिगा सका इरादा, पति-पत्नि ने बैलेट पेपर से किया वोट : दिव्यांग मतदाता संतोषी,मिलाप बोले-लोकतंत्र के महापर्व में शामिल होकर गर्व की अनुभूति हुई
समोसे को लेकर दो नाबालिग बालको में जमकर विवाद : एक ने दूसरे को ट्रेन धकेल दिया, मौत , आरोपी गिरफ्तार
रामनवमी के अवसर पर : खैरागढ़ वार्या सिटी में विराजे प्रभु श्री राम
नेता जब इतना ही ईमानदार है तो चुनाव में शराब और रूपये बाँटने की क्या जरुरत ? : राजनितिक पार्टिया असल मुद्दे छोड़ पार्टी मजबूती पर ज्यादा ध्यान देते है.



Hindi / राजनीति / खुज्जी विधानसभा के सत्ता दल से स्वयंभू टीकीट के दावेदार नगर छोड़ होली मनाया नेताओं के दर पर

खुज्जी विधानसभा के सत्ता दल से स्वयंभू टीकीट के दावेदार नगर छोड़ होली मनाया नेताओं के दर पर :

Views • 165 / 158

राजनांदगांव! DNnews- नगर की जनता जिनके उपर भरोसा जताया उन्हें नगर का जवाबदेही दिया मान सम्मान के काबिल बनाया और जब साल मे एक बार होली आता है तब ऐसे नेता महत्वपूर्ण होली त्योहार नगर वासियों के साथ रंग गुलाल खेलना छोड़ बड़े नेताओं के द्वार दूसरे शहर पहुंचकर आखिर जनता को क्या संदेश देना चाहते है? लोगअपनो के बीच हजारों मिल दूर से अपने घर होली मनानेआते है। तब छुरिया नगर व क्षेत्र के सत्ता दल के कुछ नेता अपने नगर के लोगो को छोड़ बड़े नेताओं के घर शहर मे उनके द्वार होली मनाते हुए फोटो खिचाना और उसका प्रदर्शन करना अपने को महिमामंडित करने का हद पार करना है।

क्या बड़े नेता इनके इस रवैये वाकिफ नही होगे? क्या वे इन्हें देख खुश होते होगे ऐसा बिलकुल नही है।नेताओं को समझ है.जिन्हें अपने परिवार घर व शहर के लोगों से मतलब नहीं जिन्होंने उन्हें फर्श से अर्श तक पहुंचाया आज उन्हे छोड़ उनके घर पद को देख के वजह से होली खेलना पहुंचे है। नगर व क्षेत्र के प्रबुद्धजनों के बीच एक सवाल खड़ा है क्या ऐसे नेताओं ने नगर मे अपना सम्मान खो दिया है। जो त्योहारों मे नगर के लोगो को छोड़ नेताओं के द्वार जाना पड़ता या उन्हें आम लोगो से कोई लेना देना नहीं है। या फिर नगरवासी इनके बीच होली मनाना पसंद नहीं करते है। ऐसे अनेक सवाल लोगो के मन मे है। ऐसे नेताओं का नगर छोड़ दूसरे शहर जाना क्षेत्र मे चर्चा का विषय है।

शान्ति समिती के बैठक से नदारत रहे नगर पंचायत के जवादार
छुरिया नगर मे पुलिस विभाग द्वारा नगर पंचायत अध्यक्ष उपाध्यक्ष पार्षद सहित सभी राजनीतिक दलो के जनप्रतिनिधि व प्रबुद्धजन समाजसेवियो व पत्रकारों को प्रति वर्ष होली, दिपावली, ईद, जैसे महत्वपूर्ण त्योहार पर समाजिक सौहार्द बनाए रखने के लिए सलाह व रायसुमारी के लिए एक मिटींग तहसीलदार थाना प्रभारी द्वारा बुलाया जाता है। इस वर्ष भी होली त्योहार के मौके पर इन्हें थाना परिसर मे आमंत्रित किया गया था. खबर है ऐसे महत्वपूर्ण बैठक पर नगर पंचायत के अध्यक्ष, उपाध्यक्ष व एक भी पार्षद नहीं पहुंचे जो काफी दुख का विषय है।


Dinesh Sahu

Cheif-In-Editor

खबरें और भी हैं...

Copyright © 2022-23 DNNEWS Corp ltd., All Rights Reserved

This website follows the DNPA Code of Ethics.